2016-03-18

पाईनेपल(अनानास) जूस के फायदे :Health Benefits of pineapple juice



अनानास का फल बहुत स्वादिष्ट होता है | इसके कच्चे फल का स्वाद खट्टा तथा पके फल का स्वाद मीठा होता है । इसके फल में थाइमिन,राइबोफ्लेविन,सुक्रोस,ग्लूकोस,कैफीक अम्ल,सिट्रिक अम्ल,कार्बोहाईड्रेट तथा प्रोटीन पाया जाता है | आज हम आपको अनानास के कुछ औषधीय गुणों से अवगत कराएंगे -
 *पाइनेपल में एंटीऑक्सीडेंट्स काफी अधिक मात्रा में होते हैं और शरीर को साफ रखकर सेल्स क्षय को रोकते हैं। ये एंटीऑक्सीडेंट्स विभिन्न बीमारियों जैसे कि गठिया, ह्रदय संबंधी रोग और कई तरह के कैंसर से बचाते हैं।

.* पाइनेपल में बहुतायत में मैग्निशियम पाया जाता है जिससे हड्डियों और टिशूज में ताकत आती है। एक कप पाइनेपल ज्यूस से आपको 73 % मैग्निशियम मिल जाता है और सिर्फ 27 % की और आवश्यकता बची रह जाती है।
*आंखों के लिए फायदेमंद-
अनानास अपने विशिष्ट गुणों के कारण आंखों की दृष्टि के लिए भी उपयोगी होता है। पूर्व में हुए शोधों के मुताबिक दिन में तीन बार इस फल को खाने से बढ़ती उम्र के साथ कम होती आंखों की रोशनी का खतरा कम हो जाता है।
* मसूडों और दांतों को स्वस्थ रखने में पाइनेपल बहुत कारगर है। इसके ज्यूस से दांत मजबूत बनते हैं।
*इसमें मैक्यूलर डीजेनेरेशन को रोकने की क्षमता होती है। मैक्यूलर डीजेनेरेशन उम्र से जुड़ी ऐसी बीमारी है जिसमें धीरे-धीरे आंख का सेंट्रल विजन खत्म हो जाता है।
*हड्डियों को मजबूत बनाता है
अनानास में प्रचुर मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है। यह शरीर की हड्डियों को मजबूत बनाने और शरीर को *ऊर्जा प्रदान करने का काम करता है। एक कप अनानास का जूस पीने से दिनभर के लिए जरूरी मैग्नीशियम के 73 प्रतिशत की पूर्ति होती है।
 *पाइनेपल को सूजन कम करने के लिए बहुत कारगर समझा जाता है। इसी कारण से यह गठिया रोगियों के लिए बहुत लाभदायक है। इसके उपयोग से हड्डियों में ताकत आती है।
* पाइनेपल में होने वाला विटामिन C इम्मयून सिस्टम को मज़बूत करता है और विभिन्न प्रकार की बीमारियों से आपको बचाए रखता है।
* अनानास फल के रस में मुलेठी, बहेड़ा और मिश्री मिलाकर सेवन करने से दमे और खाँसी में लाभ होता है|
*यदि शरीर में खून की कमी हो तो अनानास खाने व रस पीने से बहुत लाभ होता है | इसके सेवन से रक्तवृद्धि होती है और पाचनक्रिया तेज़ होती है |
* अनानास के पके फल के बारीक टुकड़ों में सेंधानमक और कालीमिर्च मिलाकर खाने से अजीर्ण दूर होता है |
*अनानास के पत्तों का काढ़ा बनाकर उसमें बहेड़ा और छोटी हरड़ का चूर्ण मिलाकर देने से अतिसार और जलोदर में लाभ होता है |
* अनानास के पत्तों के रस में थोड़ा शहद मिलाकर रोज़ २ मिली से १० मिली तक सेवन करने से पेट के कीड़े ख़त्म हो जाते हैं |
*पके हुए अनानास का रस निकालकर उसे रूई में भिगो कर मसूड़ों पर लगाने से दांतों का दर्द ठीक होता है 7. *अगर आप उच्च रक्त चाप से ग्रस्त हैं तो आपको पाइनेपल को अपनी डाइट का हिस्सा जरूर बनाना चाहिए। इसमें पोटेशियम काफी मात्रा में होता है और सोडियम की मात्रा कम होती है। इसी वजह से यह शरीर में रक्त के प्रवाह की गति को नियंत्रित करता है।
* पाइनेपल में पचने वाले एंज़ाइम्स जैसे ब्रोमेलेन होते हैं। अपनी डाइट में इसे शामिल करके आप पेट के कीडों से भी छुटकारा पा सकते हैं।
 *विटामिन A की कमी से आपके नाखून कमजोर और सूखे हो जाते हैं। इससे भी ज्यादा विटामिन B की कमी से आपके नाखूनों में दरारें पड़ जाती हैं और वे टूट जाते हैं। पाइनेपल के नियमित उपयोग से इन दोनों ही विटामिंस संबंधी जरूरतें पूरी होती हैं और आपके नाखून स्वस्थ और खूबसूरत बने रहते हैं।
*. अगर आप भी बार बार होठों के सूखने और परत झड़ने से परेशान हैं तो आप पाइनेपल को अपनाकर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।