2017-06-26

अच्छी नींद लेने के उपयोगी आसन:Useful Yoga posture of good sleep



रोजाना रात को आपको बढ़िया नींद के लिए संघर्ष करना पड़ता है? बिस्तर पर सोने जाते हैं लेकिन, बंद आंखों में भी नींद नहीं होती? अनिद्रा और देर से सोना, सुबह जल्दी उठना आपके अगले दिन के काम को भी प्रभावित करता है। ऐसे में, योगासन आपकी मदद कर सकते हैं। कुछ योगासनों को अपने रूटीन में शामिल कर देखिए, यकीनन आपको अच्छी नींद आएगी और आप तरो-ताजा महसूस करेंगे। जानिए ऐसे 6 योगासनों के बारे में जिन्हें कर आप सुकून और चैन की नींद सो सकते हैं
अधो मुख स्वानासन : 

इस आसन को करने के लिए पेट के बल लेट जाएं। अपने सिर को ज़मीन से लगाकर रखें और दोनों पैरों के बीच करीब एक फुट का अंतर रखें। पैरों की उंगलियां ऊपर की ओर होनी चाहिएं। अपनी हथेलियों को छाती के बगल में रखें। उंगलियों का रुख़ ऊपर की ओर होना चाहिए। यह इस आसन की प्रारंभिक अवस्था है। अब सांस छोड़िए और अपने हिप्स को ऊपर की ओर उठाइए। अपने सिर को अपनी बाहों के बीच झूलता न छोड़ें, उसे बांहों से दबाकर रखें। इस आसन को 5-6 मिनट के लिए रोजाना करें।
शवासन : 
 
इस आसन को करने से शरीर और मन तनावमुक्त होता है। इस आसन को करना बहुत आसान है। इसके लिए आप चटाई बिछाकर उपर पीठ के बल लेट जाएं और हाथ-पांव को थोड़ा बाहर की तरफ सीधा रखें। अपने शरीर के हर अंग को रिलैक्स करने दें। इस आसन को आप किसी भी समय कर सकते हैं। इसका एक सेशन 5-6 मिनट का रखें।
प्राणायाम : 
पांच-पांच मिनट का प्राणायाम और ध्यान आपको पूरे दिन लंबी रेस के लिए तैयार रखेगा। ध्यान के दौरान समस्त तनाव, विकार और नकारात्मकता को त्यागने का अनुभव कारगर सिद्ध होगा। आपको नींद भी अचछी आएगी। पद्मासन की पोजिशन में बैठकर सांस लेने और छोड़ने की इस क्रिया को करना काफी लाभदायक सिद्ध होता है।
उत्तानासन : 
दिमाग को शांत करने और तनाव को दूर भगाने में यह आसन काफी कारगर साबित होता है। इसे करने के लिए अपने बेड के सामने अपने हाथ हिप्स पर रख खड़े हो जाएं। सांस भरें और सांस छोड़ते हुए अपने बेड के कोने पर अपना सिर टिका लें। अपने हाथ पीछे की तरफ स्ट्रेच करें। और थोड़ी देर तक इस पोजिशन में रहें।

विपरीत करानी : 
आप चटाई पर पीठ के बल लेट जाएं और इसके बाद अपने पैरों को जितना हो सके ऊपर तक उठाएं और स्ट्रेच करें। इसमें पैर मुड़़ने नहीं चाहिए। आपके हाथ सिर से पीछे (ऊपर) की ओर होने चाहिए। ऐसा करते समय आप लंबी सांस भरते रहें। हालांकि, यह ध्यान रखें कि आप इतना स्ट्रेच न करें कि आपको बैकपेन की शिकायत हो जाए।

सर्वांगासन : 
सपाट जमीन पर पीठ के बल लेट जाएं और अपने दोनों हाथों को शरीर के साइड में रखें। दोनों पैरो को धीरे-धीरे ऊपर उठाइए। पूरा शरीर गर्दन से समकोण बनाते हुए सीधा लगाएं और ठोड़ी को सीने से लगाएं। इस पोजिशन में 10 बार गहरी सांस लें और फिर धीरे-धीरे नीचे आएं।