गठिया रोग से बचाव लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
गठिया रोग से बचाव लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

14.2.17

तैराकी है सबसे अच्‍छा व्‍यायाम स्वास्थ्य के लिए

   

    तैरना एक कला के साथ ही व्‍यायाम भी है, यह सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद है। तैरने से कई प्रकार की बीमारियों का खतरा तो कम होता ही है, साथ ही आपका शरीर भी मजबूत बनता है।
तैरना - यह व्यायाम का एक उत्कृष्ट रूप है।यह काम सभी मांसपेशी समूहों में आता है।वसा पेशी से बदला गया है जब इस वजह से, खोने वजन सही ढंग से किया जाता है।एक घंटे के लिए तैराकी की मदद से, आप गहन चलाने निर्माण के दौरान 100 से अधिक है, जो 500 कैलोरी, अप करने के लिए खो सकते हैं।

वात रोग (जोड़ों का दर्द ,कमर दर्द,गठिया,सूजन,लकवा) को दूर करने के उपाय

गठिया रोग से बचाव-

नियमित तैरने से आपके शरीर के जोड़ मजबूत होते हैं। जोड़ मजबूत होने से आपको भविष्‍य में गठिया संबंधी परेशानी होने का खतरा कम होता है। गठिया से बचाव के लिए अन्‍य प्रकार की एरोबिक एक्‍सरसाइज करने की भी सलाह दी जाती है। गर्म पानी से सिकाई करने पर भी गठिया के दर्द में राहत मिलती है।
दिल और फेफड़ों के लिये लाभकारी स्‍विमिंग एक ऐसी एक्‍सरसाइज है जिसको करने से सांस बार बार अंदर बाहर खींचनी पड़ती है। इसलिये यह दिल और फेफड़े के लिये अच्‍छी मानी जाती है। इसे रेगुलर करने से हार्ट अच्‍छे से काम करता है।

शीघ्र पतन? घबराएँ नहीं ,करें ये उपचार 

दिल मजबूत होता है-

स्‍वीमिंग एक प्रकार की एरोबिक एक्‍सरसाइज है और इससे आपके दिल की मांशपेशियां मजबूत होती हैं। इससे आपके पूरे शरीर में रक्‍त संचार अच्‍छा रहता है। कई शोधों से यह भी सामने आया है कि प्रतिदिन आधे घंटे तक स्‍वीमिंग करने से महिलाओं को कोरोनरी हार्ट डिजीज होने का खतरा 30 से 40 फीसदी तक कम हो जाता है।
मासपेशियां रेगुलर तैराकी करने से मासपेशियां मजबूत बनती हैं और उनमें शक्‍ती आती है। आपकी पूरी बॉडी टोन्‍ड लगने लगती है।

हर प्रकार की खांसी और कफ की समस्या के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचार 

मसल्‍स बढ़ाने में कारगर-

यदि आप नियमित रूप से स्‍वीमिंग करते हैं तो आपको कोई और व्‍यायाम करने की जरूरत नहीं होती। स्‍वीमिंग आपकी मांसपेशियां बढ़ती हैं और मजबूत भी होती हैं। तैरने के दौरान जमीन पर व्‍यायाम की तुलना में 12 गुना अधिक मेहनत करनी पड़ती है। तैरने से आपके शरीर के जोड़ मजबूत होते हैं।

गुड कोलेस्‍ट्रॉल बढ़ता है-

स्‍वस्‍थ रहने के लिए जरूरी है कि आपके शरीर में बैड कोलेस्‍ट्रॉल की मात्रा कम हो। शरीर में गुड कोलेस्‍ट्रॉल यानी एचडीएल ज्‍यादा है तो यह आपके लिए फायदेमंद साबित होता है। हफ्ते में पांच दिन तैरने से शरीर में कोलेस्‍ट्रॉल की मात्रा बैलेंस रहती है। कोलेस्‍ट्रॉल की मात्रा सही रहने से आपको हृदय रोग की आशंका भी कम होती है।

बढ़ी हुई तिल्ली प्लीहा के घरेलू आयुर्वेदिक उपचार

रक्‍त संचार बढ़ता है-

तैरने से शरीर का रक्‍त संचार बढ़ता है और आपको तनाव व दर्द से राहत मिलती है। रक्‍त संचार बढ़ने से आप चुस्‍त रहते हैं और किसी भी काम को ज्‍यादा मन लगाकर करते हैं।

वजन कम करने में सहायक-

कई बार लोग यह सोचते हैं क‍ि पानी का तापमान शरीर से कम होता है, इसलिए स्‍वीमिंग से वजन कम नहीं हो सकता। जबकि हकीकत यह है कि स्‍वीमिंग को कैलोरी बर्न वाले बेहतर व्‍यायामों में से माना जाता है। तैरने से वजन नियंत्रण में रहता है और मोटापा भी कम होता है। हर रोज 30 मिनट तैरने से शरीर से लगभग 440 कैलोरी कम हो जाती है।

लो ब्लड प्रेशर होने पर तुरंत करें ये पाँच उपाय 

शरीर में लचीलापन बढ़ता है-

बॉडी में ज्‍यादा से ज्‍यादा लचीलापन लाने के लिए काफी लोग जिम और अन्‍य प्रकार के व्‍यायामों का सहारा लेते हैं। तैरना एक ऐसा व्‍यायाम है जिससे आपके शरीर के हर हिस्‍से में लचीलापन बना रहता है।

तनाव दूर करे-


 स्विमिंग आपके दिल के लिए अच्छा है और यह शरीर पर तनाव के प्रभाव को भी कम करता है। अगर आपको अपने कार्यस्‍थल पर तनाव महसूस होता है तो पूल पर जाना ना भूलें।

किडनी फेल्योर(गुर्दे खराब) रोगी घबराएँ नहीं,ये है अनुपम औषधि.

पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा का अचूक इलाज

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका के अचूक उपचार

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि