वजन बढ़ाने में मदद लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
वजन बढ़ाने में मदद लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

1.12.16

गर्भावस्था मे सूखे मेवे खाने के फायदे//The benefits of eating nuts during pregnancy

मेवों में आवश्यक विटामिन और खनिज प्रचुर मात्रा में होते हैं। ये गर्भावस्था के दौरान आपकी पोषण संबंधी जरुरतों को पूरा करने में मदद कर सकते हैं।
मेवे फाइबर से भरपूर होते हैं, विशेषतः बाहर से भूरे आवरण वाले मेवे। फाइबर गर्भावस्था में आमतौर पर होने वाली कब्ज की समस्या में आराम देता है।
बादाम, अखरोट जैसे मेवे आयरन और प्रोटीन के भी अच्छे स्त्रोत हैं। अगर आप शाकाहारी हैं, तो आपके लिए ये विशेष रुप से फायदेमंद हो सकते हैं।
पर्याप्त मात्रा में आयरन का सेवन रक्त की कमी (एनीमिया) को रोकने के लिए महत्वपूर्ण है। विटामिन सी आयरन को कुशलता पूर्वक अवशोषित करने में शरीर की सहायता करता है। इसलिए शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ाने के लिए मेवों का सेवन संतरे के रस या नींबू पानी के साथ करें।


आँखों  का चश्मा  हटाने का अचूक  घरेलू उपाय

यह ध्यान रखिए कि मेवों में अत्याधिक वसा और कैलोरी होती है, विशेषतः अगर वे तले हुए या चीनी से लेपित हैं। एक स्वस्थ और संतुलित आहार के लिए, यह बेहतर है कि मेवों को उनकी प्राकृतिक अवस्था में और अन्य किसी भी खाद्य पदार्थ की तरह नियंत्रित मात्रा में ही खाया जाए। मुट्ठी भर मेवे एक दिन के लिए पर्याप्त हैं।

नीचे दिए गए रेखा-चित्र में दर्शाया गया है कि सबसे सामान्य मेवों में कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं और वे कैसे आप व आपके गर्भ में बढ़ रहे शिशु की मदद करते हैं:मेवे
पोषक तत्व का नाम
यह पोषक तत्व किसमें लाभकारी है
बादाम,
खजूर
अंजीर
कैल्शियम 



कान दर्द,कान पकना,बहरापन के उपचार


कैल्शियम गर्भावस्था के दौरान हाइपरटेंशन और प्री-एक्लेमप्सिया के जोखिम को कम कर देता है। यह आपके शिशु की मजबूत हड्डियां व दांत, स्वस्थ नसें व मांसमेशियां विकसित करने में मदद करता है।
काजू,
खुबानी,
चिलगोजा,
पिस्ता,
अखरोट
तांबा (कॉपर) 

कॉपर शरीर में संग्रहित आयरन का उपयोग करने में शरीर की मदद करता है। अंगों और मांसपेशियों के सुचारु रुप से काम करने के लिए भी यह महत्वपूर्ण है।
खजूर,
खुबानी,
सूखे सेब,
सूखे केले,
अंजीर,
मूंगफली,
किशमिश 


पेट मे गेस बनने के घरेलू,आयुर्वेदिक उपचार 

फाइबर (रेशेदार खाद्य पदार्थ)
फाइबर ह्दय रोग और मधुमेह को रोकने में मदद करता है। यह वजन को नियंत्रित करता है और पाचन में सुधार लाता है। गर्भावस्था में कब्ज जैसी आम शिकायत को रोकने में मदद करता है और रक्तचाप को कम रखने में भी सहायक है।
खजूर,
अंजीर,
किशमिश
आयरन
शरीर में आयरन की पर्याप्त मात्रा खून की कमी एनीमिया से बचाती है।
बादाम,
काजू,
मूंगफली,
पिस्ता,
अखरोट
मैंगनीज 


सांस फूलने(दमा) के लिए प्रभावी घरेलू उपचार

मैंगनीज स्वस्थ हड्डियों के लिए महत्पवूर्ण है। यह आपके और आपके शिशु के वजन को ठीक रखने में मदद करता है। यह आपके शिशु का अपने स्तर से छोटे होने का खतरा भी कम करता है। यह आपके चयापचय, थाइराइड, रक्त शर्करा और सामान्य कंकाल विकास को नियमित करने में मदद करता है।
बादाम,
काजू,
सूखे केले,
चिलगोजा,
किशमिश
मैग्नीशियम
हड्डियों के विकास व रखरखाव और नसों व मांसपेशियों के समुचित कार्य को सुनिश्चित करता है। मल त्याग में भी मदद करता है।
अखरोट
ओमेगा 3 फैट
आपके अजन्मे शिशु के मस्तिष्क और आंखों के विकास में मदद करता है।
काजू,
मूंगफली
फॉस्फोरस 


वीर्य की मात्रा बढ़ाने और गाढ़ा करने के उपाय 

स्वस्थ हड्डियों के गठन में मदद करता है। रक्त के थक्के बनाता है और दिल की सामान्य लय विकसित करता है।
खजूर,
खुबानी,
सूखे सेव,
सूखे केले,
किशमिश
पोटेशियम
मांसपेशियों पर नियंत्रण और रक्तचाप में सुधार करता है। यह हाइपरटेंशन को रोकने में मदद के लिए जाना जाता है।
बादाम,
मूंगफली,
पिस्ता
प्रोटीन
वजन बढ़ाने में मदद करता है और शिशु के जन्म के समय का वजन बढ़ाने में मददगार 

शिशु का अपने स्तर से छोटे होने का जोखिम भी काफी हद तक कम करता है।
बादाम
राइबोफ्लेविन
ऊर्जा उत्पादन और शिशु की हड्डियों, मांसपेशियों और मस्तिष्क के विकास में सहायक है।
खुबानी
विटामिन ए

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

आंखों , त्वचा और हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक।
सूखे केले,
पिस्ता
विटामिन बी 6
एनीमिया की रोकथाम में मदद करता है। दिल की बीमारियों और उच्च कोलेस्ट्रोल को ठीक करता है।
सूखे केले
विटामिन सी
प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है और ह्दय रोग को रोकने में मदद करता है। यह भी शिशु के मस्तिष्क के विकास के लिए महत्वपूर्ण है।
बादाम,
खुबानी,
मूंगफली,
चिलगोजा
विटामिन ई
गर्भावस्था के बाद के चरणों में उच्च-रक्तचाप (प्री-एक्लेम्पसिया) के कारण होने वाली समस्याओं को रोक सकता है।
चिलगोजा
विटामिन के
सामान्य रक्त थक्कों के विकास और हड्डियों के लिए प्रोटीन बनाने के लिए आवश्यक।
चिलगोजा


पुरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) बढ़ने से मूत्र - बाधा का अचूक इलाज

*किडनी फेल(गुर्दे खराब ) रोग की जानकारी और उपचार*

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका के अचूक उपचार

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि