टमाटर लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
टमाटर लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

19.12.16

सिर्फ सब्जियों से डायबिटीज़ कंट्रोल करें// Just vegetables to control diabetes


मधुमेह एक ऐसा भयंकर रोग हैं जिसमे कुछ भी खाना पीना हो तो बहुत सोचना पड़ता हैं के क्या खाये और क्या न खाये ऐसे में कुछ ऐसी सब्जियां हैं जिनका खानपान मधुमेह के हिसाब से सही तो हैं ही बल्कि इनके सेवन से मधुमेह के रोग को कंट्रोल करने में बहुत मदद मिलती हैं अपने भोजन में इन्हे जरूर शामिल करें |
आइये जाने इन सब्जियों के बारे में जो मधुमेह का नियंत्रण  करती हैं

हरी फली-

आपने ग्रीन बींस की सब्जी बनाकर खाई होगी। यह स्वादिष्ट तो होती है साथ ही गुणकारी भी होती है। इसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम, पोटैशियम, विटामिन ए, फोलेट और मैग्नीशियम पाए जाते हैं। आपको बता दें ग्रीन बींस एक ऐसी सब्जी है जिसका आप यदि नियमित रूप से सेवन करते हैं तो आपका वजन घट सकता है, क्योंकि इसमें फाइबर होता है जो वजन को घटाने में सहायक है। यह इम्यून सिस्टम को बेहतर करता है साथ ही हड्डियों को भी मजबूती प्रदान करता है। डायबिटीज के रोगियों के लिए आदर्श सब्जी माने जाने वाली हरी फली दिल से जुड़ी बीमारियों के लिए फायदेमंद है और पाचन तंत्र को भी दुरुस्त रखता है।

करेला-

करेला अग्नाशय को उत्तेजित कर इंसुलिन के स्त्राव को बढ़ाता हैं करेले में इंसुलिन पर्याप्त मात्रा में होती हैं यह इंसुलिन मूत्र एवं रक्त दोनों की ही शर्करा को नियंत्रित करने में समर्थ हैं मधुमेह  में करेले का जूस और सब्जी दोनों ही लाभदायक हैं और इसका चूर्ण भी  हितकारी है|

सेम -

सेम में इंसुलिन पाया जाता हैं और इसमें रेशा अर्थार्थ फाइबर भी अधिक होता हैं जो मधुमेह में बहुत लाभदायक हैं मधुमेह के रोगी को सेम की सब्जी और कच्ची सेम का जूस पीना चाहिए ये जूस नित्य एक-एक कप दिन मे दो बार पीना चाहिए

गाजर-

औषधीय गुणों से भरपूर गाजर का सेवन बहुत ही लाभकारी है। चिकित्सकों के मुताबिक इसे कच्चा खाने या इसका जूस पीने से न केवल आपकी आंखों को फायदा होता है बल्कि पेशाब और कफ संबंधी समस्या के लिए भी यह उपयोगी है। मधुमेह के मरीजों को यकीनी तौर  पर गाजर का सेवन करना चाहिए। जो लोग रोजाना गाजर खाते हैं तो उनका इंसुलिन नियंत्रित रहती है। गाजर एक वीर्य वर्धक सब्जी है और इसे कच्चा तथा उबालकर सेवन करने से शरीर पुष्ट होता है।

सिर्फ सब्जियों से डायबिटीज़ कंट्रोल  करें -

शलगम की सब्जी भी मधुमेह में बहुत लाभदायक हैं इसको भी मधुमेह के रोगी को अपने भोजन में जगह देनी चाहिए

पत्ता गोभी-

आज खुद को स्वस्थ्य रखने के लिए लोग हरी सब्जियों का अपनी डाइट में ज्यादा से ज्यादा शामिल कर रहे हैं। पत्ता गोभी उनमें से एक है। अधिकांश घरों में सेवन किया जाने वाला पत्ता गोभी स्वास्थ्य के लिए एक गुणकारी सब्जी है। इसे लोग सब्जी और पकौड़े के रूप में खाते हैं। इसके अलावा इसका इस्तेमाल सलाद के रूप में भी किया जाता है। फायबर, बिटा केरोटिन, विटामिंस बी1, बी6, के, ई, सी से भरपूर पत्ता गोभी न केवल त्वचा और बालों के लिए बहुत ही उपयोगी है बल्कि इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स डायबिटीज में दवा की तरह काम करते हैं।

कद्दू -

कद्दू में विटामिन सी ,आयरन और वसा ,एंटी आक्सिडेंट और फॉलिक एसिड भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं कद्दू का सेवन करने से मधुमेह के रोगियों को बहुत फायदा होता हैं और इस रोग की रोकथाम करने में बहुत मदद मिलती हैं

टमाटर- 

मधुमेह में टमाटर बहुत ही लाभदायक हैं टमाटर की खटाई शरीर में शर्करा की मात्रा को कम करती हैं मूत्र में शक़्कर जाना धीरे-धीरे बंद हो जाती हैं

ब्रोकोली-

ब्रोकोली एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर की एक बहुत ही महत्वपूर्ण स्रोत है जिसे कैंसर के रोगियों के लिए सही माना गया है। यह हरी सब्जी ब्रेसिक्को फेमिली की है, जिसमें पत्तागोभी और गोभी भी शामिल होती है। आयरन, प्रोटीन, कैल्शिभयम, कार्बोहाइड्रेट, क्रोमियम, विटामिन ए और सी से भरपूर ब्रोकोली मधुमेह के रोगियों के लिए भी सही माना जाता है। यह न केवल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम कर सकता है बल्की रक्तचाप को भी नियंत्रित करता है। इसके साथ ही यह वजन को भी कम करता है। इसलिए अपने डाइट में ब्रोकोली को शामिल करें।

खीरा-

कार्बोहाइड्रेट, वसा, आयरन, कैल्शियम और फास्फोरस से भरपूर खीरा पीलिया, प्यास, कब्ज की समस्या, ज्वर, शरीर की जलन, गर्मी के सारे दोष, चर्म रोग में लाभदायक है। पौष्टिक और शक्तिवर्धक होने की वजह से खीरा मस्तिष्क के लिए गुणकारी है। इसके अलावा जो लोग मधुमेह की बीमारी से पीड़ित है उन्हें में भी खीरा खाना चाहिए।

लौकी-

मधुमेह में लौकी बहुत ही लाभ करती हैं सब्जी सलाद के रूप में कच्ची लौकी खा सकते हैं सुबह खली पेट लौकी का रस पीना मधुमेह में बहुत लाभदायक हैं लौकी के रस में थोड़ा सेंधा नमक मिलाकर पिए|