फूड एलर्जी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
फूड एलर्जी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

11.2.17

पेट की सूजन कम करने के उपाय


    दुनिया भर में लोगों को पेट की सूजन (pet ki sujan) की समस्या का सामना करना पड सकता है। इस स्थिति में मरीज़ों को काफी बेचैनी सी महसूस होती है। 


पेट में सूजन

खानपान और अनियमित दिनचर्या के कारण पेट से संबंधित कई बीमारियां हो जाती हैं, इसमें से एक है पेट में सूजन होना। पेट में सूजन की समस्‍या के लिए सबसे अधिक जिम्‍मेदार कब्‍ज और गैस बनना है। यह शिकायत तब होती है जब खाना पचने में समस्‍या हो। इसके अलावा कुछ आहार ऐसे भी हैं जो इसके लिए जिम्‍मेदार होते हैं। आगे के स्‍लाइडशो में जानिए पेट की सूजन कम करने के आसान तरीकों के बारे में।
लिवर की समस्या - लिवर की खराबी के कारण भी पेट पर सूजन नजर आती है जिससे पेट अक्सर फूला हुआ नजर आता है। यह हेपेटाइटिस, अत्यधि‍क अल्कोहल का सेवन, दवाईयां या फिर लिवर कैंसर के परिणामस्वरूप भी हो सकता है।

जल्दी जल्दी खाना ना खाएं-

अगर आप भी जल्दी जल्दी खाना खाती है तो अच्छा होगा की आप अपनी इस आदत को बदल दे क्योंकि आप जब जल्दबाजी में खाना खाती है तब भोजन के साथ आपके पेट में हवा भी प्रवेश करती है जिसके कारण आपके पेट में गैस बनने लगती हैं। तो अच्छा होगी की आप जब भी खाना खाएं तो धीरे-धीरे खाएं और भोजन को अच्छे से चबा कर भी खाएं। इससे आपके पेट में किसी भी तरह की गैस नही बनेगी।
सूजन दो तरह की होती है। एक शरीर के किसी खास हिस्से में तो दूसरी पूरे शरीर को एक साथ अपनी जद में लेती है। पैर में सूजन की शुरुआत हृदय संबंधी बीमारियों को दर्शाता है। दोनों पैरों के जरिए पूरे शरीर को जद में ले लेता है। सूजन की शुरुआत सुबह के समय चेहरे में हो, फिर दिन चढ़ने के साथ समाप्त हो जाए तो इसे गुर्दे की बीमारी का संकेत है। इसी तरह सूजन पेट में हो तो समझिए आपका लीवर संकट में है। इसमें लीवर सिकुड़ने के कारण सूजन की शुरुआत पेट से होती है। इसके अलावा आयोडीन, विटामिन बी-वन, प्रोटीन की कमी सूजन का कारण बनती है। फाइलेरिया नामक बीमारी में भी किसी एक पैर में सूजन होती है, लेकिन यह पैरों तक ही सिमट कर रह जाती है।

लीवर के रोगों की वजह

अत्यधिक शराब पीने से लीवर के रोग होने की संभावना रहती है। इसमें लीवर सिकुड़ने की वजह से सूजन पेट पर दिखाई पड़ने लगती है। यूरीन पीला आने लगता है। ऐसे लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।

खाने के बाद टहलने जाएं-

अक्सर लोग खाना खाने के बाद तुरन्त ही सो जाते है लेकिन ऐसा नही करना चाहिए क्योकि ऐसा करने से भी आपके पेट में सूजन आ सकती है। तो अच्छा होगा की आप जब भी भोजन करे तो उसके बाद टहलने जरुर जाएं। इससे आपका भोजन भी पच जाएगा और आपके पेट में किसी तरह की सूजन भी नही आएगी। इसके अलावा आप रोज कुछ समय के लिए पैदल जरुर चले इससे आपका शरीर अच्छे से काम करेगा।
बिना चिकित्सकीय सलाह के दवाओं का सेवन करने से लीवर को नुकसान होता है। पैरासिटामाल, क्रोसीन आदि दवाईयां ज्यादा खतरनाक होती हैं। जिसे पहले से लीवर की बीमारी हो उसके लिए एक टेबलेट भी खतरनाक हो सकती है। दवाओं से लीवर को नुकसान
हरी सब्जियों का प्रयोग बढ़ाएं
ज्यादा च्युइंग गम ना खाएं-
क्या आप ये जानती है कि जब आप च्युइंग गम चबाती है तो उस समय आपके पेट में सबसे ज्यादा हवा जाती हैं जिसके कारण आपके पेट में सूजन आने लगती हैं। अगर आपको भी च्युइंग गम चबाना अच्छा लगता है तो अच्छा होगी की आप अपनी इस आदत को बदल दें। इसके स्थान पर आप गाजर, पॉपकॉर्न या कैंडी खा सकती हैं।

 कब्‍ज-

पेट की सूजन के लिए सबसे अधिक जिम्‍मेदार कब्‍ज होता है, यह शिकायत खाना ठीक से न पचने के कारण होता है। कम फाइबर और तरल पदार्थ का सेवन करने से कब्ज की शिकायत हो सकती है। इससे निजात पाने के लिए आहार में फाइबर के स्रोतों जैसे - दालें, नट्स, बीज, हरी सब्जियां और ताजे फलों को शामिल कीजिए। फाइबर आपकी पाचन क्रिया को ठीक रखने में बहुत मददगार है।
हरी सब्जियां, फल के सेवन से विटामिन बी-वन की कमी पूरी होती है। इसी तरह प्रोटीन के लिए दूध, दाल का सेवन अत्यधिक लाभकारी होता है। इन खाद्य पदार्थो के सेवन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। ब्लड की कमी पूरी होती है,जो सूजन का एक महत्वपूर्ण कारक है।

आंत की समस्या - 

अगर पेट फूलने के साथ ही कठोर भी हो और आप उल्टी, जी मचलाना, कब्जियत जैसी समस्याओं का भी सामना कर रहे हैं, तो यह आंत की गड़बड़ी या आंत में ट्यूमर के कारण भी हो सकता है। 

शराब के स्थान पर नींबू पानी पीएं-

अक्सर लोगों को ये लगाता है ज्यादा पानी पीने के कारण उनका शरीर फूला हुआ लगने लगता है लेकिन ऐसा नही है इसके विपरीत अगर आप पर्याप्त मात्रा में पानी नही पीएंगी तो आपका शरीर फूल सकता हैं। जब आप पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीती है तो आपका शरीर आपके अंदर मौजूद पानी का प्रयोग करने लगाता हैं जिसके कारण आपके शरीर में पानी की कमी होने लगती हैं। जिससे आपका स्वास्थ खराब होता हैं। तो अच्छा होगा की आप समय समय पर पानी जरुर पीएं वैसे अगर आप चाहे तो पानी में नींबू डाल कर भी उसे पी सकती है नींबू पानी शरीर के लिए बहुत अच्छा होता हैं और इससे आपके शरीर में पानी की कमी भी नही होगी और ना ही आपके पेट में सूजन आएगी।

कम भोजन करें-

अगर आप जरुरत से ज्यादा भोजन करेंगी तो भी आपको अपना पेट फूला हुआ सा लग सकता हैं। लेकिन एक साथ ज्यादा भोजन करने के स्थान पर आप चाहे तो थोड़ी-थोडी देर में कुछ ना कुछ खाती रहें इससे आपको किसी भी तरह की पेट की समस्या नही होगी। लेकिन भोजन करते समय भी इस बात का ध्यान रखे की आप जितना भोजन कर सकती है बस उतना ही करे उससे ज्यादा खाने की कोशिश करेगी तो आपके पेट में सूजन हो सकती हैं।


नमकीन चीजों का सेवन कम करें-

वैसे तो हम जो कुछ भी खाते है उसमे से ज्यादातर चीजों में नमक मौजूद होता हैं। लेकिन ज्यादा नमक खाना भी हमारे शरीर के लिए अच्छा नही होता हैं क्योकि इसके कारण भी हमारा पेट फूला हुआ सा लगता हैं। ऐसे में आप जो कुछ भी खांए तो उसमे देख ले की नमक कितनी मात्रा में मौजूद है। इतना ही नही आप कभी भी ऐसे पदार्थ का सेवन ना करें जिसमें 500 मिलीग्राम से ज्यादा नमक मौजूद हो।
गर्भाशय का कैंसर - कुछ मामलों में पेट का फूला रहना या भरा रहना गर्भाशय के कैंसर के लक्षणों में शामिल होते हैं। इस स्थि‍ति में श्रोणि‍ या पेट के निचले हिस्से में दर्द और पहले से अधि‍क भराव महसूस होता.

फूड एलर्जी से करें बचाव

पेट में सूजन के लिए फूड एलर्जी भी जिम्‍मेदार है। फूड एलर्जी के लिए अस्‍वस्‍थ खानपान जिम्‍मेदार है। अधिक तला-भुना, फास्‍ट फूड, डिब्‍बाबंद आहार खाने से बचें, क्‍योंकि ये फूड एलर्जी का कारण बन सकते हैं।

गर्म नींबू पानी-

नींबू में राइबोफ्लेविन, विटामिन बी और सी, फास्फोरस, कैल्शियम और मैग्नीशियम होते हैं। नींबू में हाइड्रोक्लोरिक एसिड भी होता जो कि भोजन को पचाने में आपके शरीर को सहायता प्रदान करता हैं तथा हमारे शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है।
• एक गिलास गर्म पानी में नींबू का ताजा रस निचोड़।
• अब इसे अच्छे से मिक्स करें और रोज सुबह खाली पेट इसे पीएं ।
• अगर आप चाहती है कि ये जल्दी असर करे तो आप इसका सेवन रोज कर सकती हैं।

अच्‍छे से चबाकर खायें

खाने में जल्‍दबाजी न करें, जल्दी में ना खाएं। खाने को अच्छे से पचाने के लिए जरूरी है कि चबा-चबा कर खाया जाए। अच्छे से ना चबाने से शरीर के अंदर हवा चली जाती है जिससे पेट में सूजन की समस्या हो सकती है। इसलिए खाने को धीरे-धीरे और अच्छे से चबा कर खाएं इससे खाना अच्‍छे से पचता है और सूजन नहीं होती।

अदरक-

अदरक की मदद से आप आतों की सूजन को कम कर सकती हैं साथ ही अपनी मांसपेशियों को आराम भी दिला सकती हैं। अगर आप नियमित रुप से खाने में अदरक का प्रयोग करती है तो आपको कभी भी पेट में सूजन की समस्या नही होगी।
• अदरक के कुछ टुकड़ों के काट कर एक कप में रख लें और उसमें उपर से उबलता हुआ पानी डाल दें। इसके बाद किसी ढक्कन की मदद से कप को कवर कर दें और कप को 10 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दे। वैसे आप चाहें तो इसमें 1 चम्मच शहद और नींबू का रस भी जोड़ सकती हैं।
• आप चाहे तो अदरक को कच्चा भी खा सकती हैं।

सौंफ के बीज-

सौंफ के बीज में दर्द कम करने की क्षमता होती है इसके साथ ही इसमें कुछ ऐसे तत्व भी होते है जो की भोजन को पचाने में मदद करते हैं और पेट में अगर सूजन आ गयी हो तो उस सूजन को भी कम करते हैं।
• भोजन करने के बाद हमेशा सौंफ के बीज खाने की आदत डालें। इससे आपके पेट में सूजन पैदा नही होगी।
• फूले हुए पेट के इलाज का एक अन्य तरीका भी है इसके लिए आप चाय में सौंफ मिलाकर पी सकती हैं। या फिर आप 1 चम्मच सौंफ को 1 कप पानी में डाल कर अच्छे से उबाल लें। अब इस पानी को पी ले इससे भी आपके पेट में सूजन नही होगी।

गठिया ,घुटनों का दर्द,कमर दर्द ,सायटिका के अचूक उपचार 

गुर्दे की पथरी कितनी भी बड़ी हो ,अचूक हर्बल औषधि

पित्त पथरी (gallstone) की अचूक औषधि 

सेक्स का महारथी बनाने और मर्दानगी बढ़ाने वाले अचूक नुस्खे