कच्चे आलू की पुल्टिस लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
कच्चे आलू की पुल्टिस लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

17.1.17

कमर दर्द के घरेलू उपचार // Home remedies for back pain


   आधुनिक जीवनशैली पर चलने वाला हर एक व्यक्ति आज किसी न किसी शारीरिक या मानसिक बीमारी से ग्रस्त है।काम चाहे घर में हो या ऑफिस में, कार्य चाहे खडे़ रहकर करने का हो या बैठकर करने का अक्सर कमर में दर्द हो ही जाता है। कमर दर्द की वजह से आपको बड़ी परेशानी होती है। जिसकी वजह से आपका बैठना या खड़ा रह पाना मुशकिल हो जाता है। कमर दर्द की इस वजह से मांसपेशियों में तनाव आ जाता है और दर्द तेज होने लगता है। कमर दर्द से ज्यादातर महिलाएं परेशान रहती है। लेकिन अक्सर देखा गया है जो पुरूष बैठकर काम करते हैं उन्हें भी कमर दर्द की परेशानी होती है।सिर्फ बड़ी उम्र के लोग ही नहीं बल्कि युवा भी कमर दर्द की शिकायत करते रहते हैं। 

कमर दर्द के कारण

*कमर दर्द से परेशान वे लोग ज्यादा होते हैं जो भारी सामान को उठा ले ते हैं, या फिर उठाते रहते हैं उन्हें कमर दर्द की परेशानी ज्यादा होती है।
*ज्यादा देर तक ठंडे पानी में भीगने से भी कमर दर्द होता है।

थाईरायड ग्रथि के रोग:हाईपर थायराई्डिस्म या हाईपो थाईराईडिस्म

*महिलाओं में कमर दर्द का कारण उनका वजन बढ़ना, मासिक धर्म, और श्वेत प्रदर आदि होता है।
*आयुर्वेद के अनुसार कमर दर्द की मुख्य वजह है देर रात तक जागना, किसी कठोर सीट पर बैठने से, अधिक ठंडा पानी पीने से, कमर पर किसी तरह की चोट लगने से, या अति *मैथुन करने से कमर दर्द होता है। 
अगर आप कमर दर्द से परेशान हैं तो इससे बचने के लिए आप के सामने प्रस्तुत हैं कुछ रामबाण नुस्खे जो कि बहुत कारगर तो हैं ही साथ ही इनका कोई भी साइड इफेक्ट भी नहीं होता है। 

कमर दर्द के रामबाण नुस्खे -

*मेथी का प्रयोग खाने में करते रहने से भी कमर दर्द में राहत मिलती है। मेथी के लडुओं को सेवन नियमित करते रहने से कमर दर्द नहीं होता।
 
*यदि कमर में दर्द अधिक है तो आप मेथी के तेल की मालिश कमर पर जरूर करें लाभ मिलेगा।
* रोज सुबह सरसों या नारियल के तेल में लहसुन की तीन-चार कलियॉ डालकर (जब तक लहसुन की कलियां काली न हो जायें) गर्म कर लें। ठंडा होने पर इस तेल से कमर की मालिश करें।
*200 ग्राम दूध में 5 ग्राम एरंड की गिरी को पकाकर, दिन में दो बार सेवन करने से कमर दर्द की पीड़ा जल्दी ठीक हो जाती है।

अनचाहे मस्से से मुक्ति के उपाय

*नमक मिले गरम पानी में एक तौलिया डालकर निचोड़ लें। इसके बाद पेट के बल लेट जाएं। दर्द के स्थान पर तौलिये से भाप लें। कमर दर्द से राहत पहुंचाने का यह एक अचूक उपाय है।
*कमर दर्द में कच्चे आलू की पुल्टिस बांधने से कमर से संबंधित दर्द समाप्त हो जाता है। लेकिन नियमित इस का प्रयोग करेगें तभी।
*कढ़ाई में दो-तीन चम्मच नमक डालकर इसे अच्छे से सेक लें। इस नमक को थोड़े मोटे सूती कपड़े में बांधकर पोटली बना लें। कमर पर इस पोटली से सेक करने से भी दर्द से आराम मिलता है।
 
*फली का सेवन करना कमर दर्द में उपयोगी माना गया है, कुछ दिनों तक नियमित रूप से फली का सेवन करने से कमर दर्द की पीड़ा में राहत मिलती है।


भटकटैया (कंटकारी)के गुण,लाभ,उपचार


*जहां दर्द होता होता है हो वहाँ 5 मिनट तक गरम सेंक, और दो मिनट ठंडा सेंक देने से तत्काल लाभ पहुंचता है।
*तिल के तेल की कमर पर मालिश करने से कमर दर्द ठीक हो जाता है। तिल के तेल को हल्की आंच में गरम करें और फिर इस तेल को कमर दर्द वाली जगह पर हल्के हाथों से मालिश करें। कमर दर्द में जल्द ही राहत मिलेगी।
*कमर दर्द के लिए व्यायाम भी करना चाहिए। सैर करना, तैरना या साइकिल चलाना सुरक्षित व्यायाम हैं। तैराकी जहां वजन तो कम करती है, वहीं यह कमर के लिए भी लाभकारी है। साइकिल चलाते समय कमर सीधी रखनी चाहिए। व्यायाम करने से मांसपेशियों को ताकत मिलेगी तथा वजन भी नहीं बढ़ेगा।
*गेहूं की बनी रोटी जो एक ओर से नहीं सिकी हो उस पर तिल के तेल को चुपड़कर कमर दर्द वाली जगह पर रखने से कमर दर्द जल्दी ठीक होता है।
*गरम पट्टी को कमर पर बांधने से कमर दर्द मे राहत मिलती है, गरम पानी में थोड़ा सेंधा नमक डालकर नहाने से भी कमर और पीठ दर्द में राहत मिलती है ।
आप इन कारगर घरेलू उपायों के जरिए कमर दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। लेकिन इसके साथ ही आपको व्यायाम की जरूरत भी है। साथ ही सीधे खड़े होने और सीधे बैठने की आदत डालें।

पथरी की अचूक हर्बल औषधि से डाक्टर की बोलती बंद!

*अजवाइन को तवे के ऊपर थोड़ी धीमी आंच पर सेंक लें तथा ठंडा होने पर धीरे-धीरे चबाते हुए निगल जाएं। लगातार 7 दिनों तक यह प्रयोग किया जाए तो आठवे दिन से कमर दर्द में 100 फीसदी लाभ होता है।

कमर दर्द को ठीक करने के अन्य उपाय

*रोज पैदल चलने की कोशिश करें । यह कमर दर्द से राहत पाने का व्यायाम है।
*ज्यादा समय तक किसी कुर्सी या स्टूल पर झुककर न बैंठे। क्योंकि यह कमर दर्द की वजह बनता है।
*ज्यादा नर्म गद्दों पर न सोएं।
*अधिक उंचे जूते या हील पहनने से बचें।
*किसी भी सामान को अकेले न उठाएं।
*आप शरीर को व्यस्त रखें।
*अपने बैठने का पोश्चर सही रखें। और जब भी कार चलाएं तब सीट बेल्ट को टाइट करके रखें।
*कैल्शियम से बनी चीजों का सेवन अधिक करें। क्योंकि कमर दर्द की मुख्य वजह कैल्शियम की कमी होती है।
*आप हलासन, भुजंगासन और शलभासन करें।


अनचाहा गर्भ गिराने के सही तरीके और उपाय


*कमर दर्द से राहत पाने के लिए साइकिल जरूर चलाएं।
*कुर्सी पर सीधा बैठें। अधिक देर तक एक ही जगह पर न बैठें।
*सुबह शाम दिन में दो बार दो-दो छुहारे खाते रहें एैसा नियमित कुछ दिनों तक करने से कमर दर्द में राहत मिलती है।
*देशी घी में अदरक का रस मिलाकर पीते रहें, कुछ दिनों तक सेवन करने से कमर दर्द की शिकायत दूर हो जाती है।
*कमर दर्द में भारी वजन उठाते समय या जमीन से किसी भी चीज को उठाते समय कमर के बल न झुकें, बल्कि पहले घुटने मोड़कर नीचे झुकें और जब हाथ नीचे वस्तु तक पहुंच जाए तो उसे उठाकर घुटने को सीधा करते हुए खड़े हो जाएं।


पित्त पथरी (gallstone) के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचार


किडनी निष्क्रियता की हर्बल औषधि


प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि


सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि