काजू खाने के फायदे लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
काजू खाने के फायदे लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

11.9.16

काजू खाने के फायदे ,लाभ



सूखे मेवों में काजू का नाम पहले स्‍थान पर आता है। काजू भले ही थोड़ा महंगा हो लेकिन इसे नियमित रूप से खाने के कई स्‍वास्‍थ्‍य वर्धक फायदे हैं। काजू खाने से अनेक प्रकार की बीमारियां कंट्रोल में आती हैं तथा त्‍वचा भी खूबसूरत बनती है। काजू को हद से ज्‍यादा भी नहीं खाना चाहिये। काजू से शरीर का मेटाबॉलिज्‍़म ठीक होता है तथा दिल की बीमारी भी दूर रहती है।स्वादिष्ट और पौष्टिक से भरपूर काजू को ड्रायफ्रूट्स का राजा माना जाता है। महंगे होने के बावजूद यदि आप इसे नियमित रूप से खाते हैं तो इसके अनेक फायदे हैं। थकान को दूर करने और त्वचा की खूबसूरती बढ़ाने में सहायक काजू के बारे कहा जाता है कि सौ दवाइयां खाने की बजाए यदि आप काजू खाते हैं तो आपके शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद रहेगा।
मैगनीशियम, पोटैशियम, कॉपर, आयरन, मैगनीज, जिंक और सीलियम से भरपूर काजू खाने से शरीर को उर्जा मिलती है और मेटाबॉलिज्म ठीक होता है तथा दिल की बीमारी भी दूर रहती है। काजू का सूखे मेवे के रूप में सेवन किया जाता है। काजू से अनेक तरह की मिठाइयां व अन्य व्यंजन तैयार किए जाते है। सब्जियों में काजू डालकर उन्हें अधिक स्वादिष्ट बनाया जाता है।
* काजू को पानी के साथ पीसकर नमक के साथ चटनी बनाकर सेवन करने से अजीर्ण और अफारा की समस्या दूर होती है।
*प्रोटीन से भरपूर काजू में किशमिश मिलाकर खाने से शारीरिक दुर्बलता दूर होती है।
* काजू में मेगनीशियम होता है इसलिए इसका सेवन करने से हड्डियों को मजबूती मिलती है।
* काजू खाने से शरीर में वसा की कमी पूरी होती है। शरीर में शक्ति, स्फूर्ति और उत्साह विकसित होता है।

थकान दूर करने के उपाय

एनीमिया दूर करे
काजू में मौजूद कॉपर शरीर में एंजाइम गतिविधि, हार्मोन का उत्पादन, मस्तिष्क का कार्य आदि संभालने में मदद करता है। कॉपर रेड ब्‍लड सेल्‍स को बढ़ा कर एनीमिया जैसी बीमारी को दूर करता है।
* नियमित रूप से काजू के सेवन से दांतों को मजबूती मिलती है और मसूड़े भी स्वस्थ्य रहते हैं।
वजन संतुलित रहे

*काजू में अधिक ऊर्जा होती है और इसमें dietry fibre की मात्रा भी अधिक होती है इसलिए इसको खाने से शरीर का वजन संतुलित रहता है।
*काजू के सेवन से शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ती है क्योंकि काजू में लौह तत्व अधिक मात्रा में होता है।
*एनीमिया के रोगी को काजू का सेवन कराने से बहुत लाभ होता है। काजू खून की कमी को दूर करता है।
*डॉक्टर के अनुसार काजू खाने से पाचनशक्ति तीव्र होती है और अधिक भूख भी लगती है

छोटे वक्ष को उन्नत और सूडोल बनाएँ

डायबटीज़ कम करे
मधुमेह यानी डायबटीज़ को कम करने के लिए काजू काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। एक नए अध्ययन में खुलासा हुआ है कि काजू इंसुलिन की मात्रा बढ़ाता है, जिससे मधुमेह नियंत्रित रहता है।
* काजू को पानी में डालकर रखें। तीस मिनट बाद उसी पानी में पीसकर सेवन करने से शारीरिक निर्बलता दूर होती है।
शरीर बनाए मजबूत
काजू में मेगनीशियम पाया जाता है जो कि हड्डी में मजबूती लाता है। हमारे शरीर को रोजाना 300-750 mg मैगनीशियम की आवश्‍यकता पड़ती है।* कुष्ट रोग के कारण उत्पन्न त्वचा की शून्यता काजू की तेल की मालिश से दूर होती है।
* काजू का तेल शरीर पर मलने से रुखापन दूर होता है और त्वचा अधिक कोमल व मुलायम होती है।

रंगत निखाारे
त्वचा के लिए भी काजू काजू को दूध में मिलाकर रगड़ने से त्वचा सुंदर और मुलायम बनती है। इससे रंगत भी निखरती है। काजू का नियमित सेवन आपके बालों को झड़ने से रोकते हैं।

* काजू में मौजूद मोनो सैचुरेटड फैट दिल की बीमारियों के खतरे को कम करता है।
कैंसर से बचाए
काजू में एंटी ओक्सिडेंट जैसे विटामिन ई और सेलनियम भी होते हैं जो कि कैंसर से बचाव करता है। इसके साथ ही इसमें जिंक होता है जो कि संक्रमण से लड़ने में मदद करता है।
*. काजू के सेवन से वीर्य वृद्धि होने से कामशक्ति विकसित होती है।


कान दर्द,कान पकना,बहरापन के उपचार


* काजू पेट के कीड़े और अर्श की समस्या को नष्ट करता है।
दिल के लिये फायदेमंद
*काजू में मोनो सैचुरेटड फैट होता है जो की दिल को स्वस्थ रखता है और दिल की बीमारियों के खतरे को कम करता है। इसमें बिल्‍कुल भी कोलेस्‍ट्रॉल नहीं होता है।
बी पी रखे कंट्रोल में
इन मेवों में सोडियम बहुत ही कम और पोटैशियम हाई मात्रा में होता है, जिससे ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है।

शीघ्र पतन? घबराएँ नहीं ,करें ये उपचार 

काजू खाने के नुकसान
* अधिक मात्रा में काजू के सेवन से नाक से खून निकलने की संभावना बढ़ जाती है।
*काजू के फल के छिलकों का तेल अधिक दाहक और त्वचा पर जख्म बना देता है।
*गर्मी के महीने में काजू का सेवन नहीं करना चाहिए। गर्मी के दिनो में काजू के सेवन से शरीर का तापमान बढ़ जाता है।
*अधिक मात्रा में काजू खाने से दस्त की विकृति हो सकती है। दस्त के रोगी को काजू का सेवन नहीं करना चाहिए।

---------


------