चेहरे की झुर्रियां दूर करने के उपाय लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
चेहरे की झुर्रियां दूर करने के उपाय लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

17.2.18

चेहरे की झुर्रियां दूर करने के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपाय


                               

    आप निम्नलिखित सरल व आयुर्वेदिक तरीको को नियमित रूप से अपनाकर अपने चेहरे की झुर्रियों को काफी हद तक दूर रख सकती है तथा बढती उम्र में भी अपनी त्वचा को खुबसूरत व जवां रखकर दुसरो के बीच आकर्षण का केंद्र बन सकती है.
1. झुर्रियों के लिए सबसे बड़ा उपचार है कि त्वचा को शुष्क न होने दें. इसके लिए किसी आयुर्वेदिक ग्लिसरीनयुक्त क्रीम का प्रयोग किया जा सकता है. यदि चेहरे की स्निग्धा बनी रहेगी तो झुर्रियां देर में पड़ेगी, इसलिए ऐसी क्रीम का प्रयोग करें जो चेहरे को स्निग्ध बनाये रखें.
इसके अलावा नाईट क्रीम के प्रयोग से भी झुर्रियों को दूर रखा जा सकता है.


छोटे स्तनों को उन्नत और सूडोल बनाए

2. एक चमच्च ताज़ा ऑरेंज जूस में एक चमच्च प्लेन दही मिलाएं और इस मिश्रण को अपने चेहरे पर १० से १५ मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें. उसके बाद हलके गुनगुने पानी से चेहरा धो लें.
3. एक चमच्च कोकोनट मिल्क के साथ एक चमच्च कोर्न स्टार्च और एक चमच्च पाइनएप्पल जूस मिलाएं. यह लेप धूप से हुए नुकसान को कम करता है.  कोकोनट मिल्क में लैक्टिक एसिड होता है, जो त्वचा को मुलायम बनता है.
4. त्वचा में ताजगी बनाएं रखने के लिए उड़द की दाल के पाउडर में गुलाबजल, ग्लिसरीन और बादाम रोगन मिलाकर चेहरे पर लगायें.

    उपरोक्त लिखे उपाय सामान्य त्वचा वाले व्यक्तियों के लिए अधिक उपयोगी सिद्ध होंगें.
5. एक चमच्च बेकिंग सोडा लें इसमें एक चमच्च दही मिलाएं और इस मिश्रण को चेहरे पर दो मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें. फिर धीरे धीरे त्वचा की हाथ से मसाज करें और हलके गुनगुने पानी से अच्छी तरह धो लें. यह मिश्रण त्वचा के पोर साफ़ करता है और रुखी त्वचा को बिना किसी जलन के मुलायम बनाता है.
6. अपनी त्वचा को संतुलित बनाये रखने के लिए नियमित रूप से गुलाब जल का प्रयोग करें. 


नई और पुरानी खांसी के रामबाण उपचार 

7. आधा चमच्च जैतून के तेल में डेढ़ चमच्च अच्छी प्रकार मसला हुआ पपीता मिलाएं और इसको ठंडा होने के लिए रख दें. इसके बाद त्वचा पर इसकी मसाज करें और 5 मिनट लगाकर छोड़ दें. फिर सूती कपड़े से बहुत आराम से इसे साफ़ करें.



किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचा



     

11. एक चमच्च एलोवेरा जेल और शहद का मिश्रण बनाएं और चेहरे पर दस मिनट के लिए लगायें.
दस मिनट बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें.
12. मसूर की पिसी दाल में शहद मिलाकर गर्मियों में चेहरे पर लगाये. इससे सुखी त्वचा को ठंडक मिलती है और ब्लैक हेड्स भी दूर होते है.
· अन्तिम दो सुझाव विशेषकर रुखी त्वचा वाले व्यक्तियों के लिए है.
13. चेहरे पर रोजाना अंडे का तेल (केस्टर ऑयल) लगाने से झुर्रियों का आना कम हो जाता है और त्वचा सौम्य नजर आती है.
१४. पक्के केले के गुददे में कुछ बुँदे जैतून की तेल की मिलाकर एक पेस्ट बना लें, इस पेस्ट के नियमित उपयोग से रिंकल्स कम होने लगते है.
१५. इसके अलावा पक्के केले में नारियल का तेल मिलाकर हाथों पर हाथ धोने की तरह मले. इससे हाथों पर रिंकल्स नहीं आयंगे.
१६. एक उबले आलू को मसलकर उसमे थोडा कच्चा दूध या मलाई, चुटकी भर हल्दी मिलाकर चेहरे पर लगायें और तकरीबन 20 मिनट बाद चेहरा धो लें. यह उपाय बढती उम्र के प्रभाव को कम करता है.बाद सादे पानी से चेहरा साफ़ कर लें.
३. एक चमच्च पाइनएप्पल के रस में एक चमच्च हल्का गुनगुना कोकोनट मिल्क व डेढ़ चमच्च कॉर्नस्टार्च डालकर एक लेप तैयार कर लें. इसे चेहरे पर लगाकर दस मिनट बाद हलके गुनगुने पानी से चेहरा धो लें. यह आपके चेहरे को प्राक्रतिक खूबसूरती प्रदान करने में लाभकारी होगा.



किडनी निष्क्रियता की हर्बल औषधि

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि