मुलेठी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
मुलेठी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

27.8.19

थायराइड की समस्या का जड़ से इलाज


                         
थायराइड, जिसे लोग एक प्रकार की बीमारी समझते हैं मौजूदा वक्त में उससे बहुत से लोग परेशान हैं। लोगों में थायराइड की समस्या आम हो गई है, जिसे कंट्रोल रखने के लिए निरंतर दवाओं का सेवन बढ़ रहा है। लेकिन सबसे पहले आपको बता दें कि थायराइड कोई बीमारी नहीं बल्कि एक प्रकार की तितली के आकार की ग्रंथि होती है, जो हमारे गले में आगे की तरफ होती है। यह ग्रंथि थायराइड हार्मोन का निर्माण करती है, जो हमारे शरीर में मेटाबॉलिज्म के स्तर को नियंत्रित रखने में मदद करती है। हालांकि जब हार्मोन असंतुलित होने लगते हैं तब लोगों को थायराइड की समस्या होने लगती है। थायराइड का बढ़ना लोगों में मोटापे, थकान, पीठ दर्द जैसी समस्याओं का कारण बनता है।
सामान्य तौर पर थायराइड को नियंत्रित रखने के लिए लोग दवा का सेवन करते हैं जबकि कुछ प्राकृतिक तरीके ऐसे भी हैं, जिसके जरिए आप इस बीमारी को जड़ से खत्म कर सकते हैं। अगर आप भी थायराइड की समस्या से निजात पाना चाहते हैं तो आप अपनी डाइट में इन चीजों को शामिल कर थायराइड की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। हम आपको ऐसी पांच चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके सेवन से आप थायराइड की समस्या से दूर रहेंगे।
मुलेठी
थायराइड की समस्या से छुटकारा पाने के लिए मुलेठी को एक बेहद ही लाभकारी औषधि माना गया है। मुलेठी थायराइड ग्रंथि से हार्मोन्स के रिसाव को बढ़ाती है और शरीर में हार्मोन्स के संतुलन को ठीक रखने में मदद करती है। नियमित रूप से मुलेठी का सेवन थायराइड की समस्या को दूर करने में फायदेमंद साबित होता है। मुलेठी का सेवन आपके शरीर में हमेशा हार्मोन का संतुलन नियंत्रित रखता है, जिसके कारण आपको थायराइड की समस्या नहीं होती। इसके अलावा मुलेठी के सेवन से आपका लिवर भी फिट रहता है और आपको पेट संबंधी समस्याएं भी नहीं होतीं।
अलसी के बीज
थायराइड की समस्या से छुटकारा दिलाने में जितना फायदेमंद अलसी है उतने ही अलसी के बीज भी इस समस्या को दूर करने में लाभकारी हैं। इसके लिए आपको करना ये है कि एक चम्मच अलसी के पाउडर को 1 गिलास दूध या फिर फलों के रस में मिलाना है और अच्छी से तरह से इसका मिश्रण कर दिन में 1 से 2 बार पीना है। नियमित रूप से ऐसा करने से थायराइड की समस्या से छुटकारा मिलता है।
हरा धनिया बेहद फायदेमंद
थायराइड की समस्या से छुटकारा पाने में बाजार में बिकने वाला मामूली सा हरा धनिया बेहद फायदेमंद है। आप इसको पीसकर चटनी बना लें और सुबह-शाम इस चटनी का सेवन करें। ऐसा करने से आप थायराइड जैसी समस्या से घरेलू उपचार के जरिए निजात पा सकते हैं। आप इस चटनी को 1 गिलास पानी में घोलकर भी पी सकते हैं। इस घोल को रोजाना पीने से आपका थायराइड कंट्रोल भी रहेगा। इसके अलावा आप खाना-खाने के दौरान भी चटनी का सेवन करें। इससे आपको इस समस्या से छुटकारा पाने में मदद मिलेगी।
एलोवेरा
एलोवेरा के फायदों के बारे में आपने जरूर सुना होगा। दरअसल इस प्राकतिक औषधि में 8 प्रकार के एमिनो एसिड और 12 विटामिन्स पाए जाते हैं, जो हमारे शरीर के गले में मौजूद थायराइड ग्रंथि को डिटॉक्स कर सारे विषैले पदार्थ बाहर निकालने का काम करते हैं। थायराइड को नियंत्रित या फिर इस समस्या को खत्म करने के लिए आप रोजाना सुबह इसका जूस पीएं। नियमित रूप से ऐसा करने से आपको जल्द ही इस समस्या से छुटकारा मिलेगा।
आज मैं आपको एक ऐसा उपचार बताने जा रहा हूँ जो दोनों तरह की थायराइड को सिर्फ 10 दिन में जड़ से समाप्त कर देगा।
आवश्यक सामग्री - 
कांचनार छाल चूर्ण 50 ग्राम, सहजन पत्र चूर्ण 50 ग्राम, मुलेटी चूर्ण 50 ग्राम, ग़म्बरी फल चूर्ण 50 ग्राम और गौमूत्र 250 ग्राम।
बनाने और सेवन विधि -
सबसे पहले इन सभी सामग्रियों को आपस में अच्छी तरह से सुखा कर पीस लें और पाउडर बना कर किसी कांच की शीशी में रख लें। अब आप हर रोज एक चम्मच औषधि और आधा चम्मच गोमूत्र अर्क के साथ लें। ऐसा सिर्फ 10 दिन करने से आपको किसी प्रकार की थायराइड जड़ से समाप्त हो जायेगी। इस औषधि के सेवन के आधा घंटा तक कुछ न लें।

सिर्फ आपरेशन नहीं ,पथरी की 100% सफल हर्बल औषधि 

आर्थराइटिस(संधिवात)के घरेलू ,आयुर्वेदिक उपचार



किडनी फेल (गुर्दे खराब) की हर्बल औषधि 

प्रोस्टेट ग्रंथि बढ्ने से मूत्र बाधा की हर्बल औषधि